खुशखबरी : लंबे इंतजार के बाद नीट उतीर्ण छात्र-छात्राओं के डॉक्टर बनने का सपना होगा पूरा, नामांकन का शेड्यूल हो गया जारी

Edited By:  |
NEET PASS STUDENT KE LIE KHUSKHABRI,ADMISSION KE SCHDULE HUA JARI NEET PASS STUDENT KE LIE KHUSKHABRI,ADMISSION KE SCHDULE HUA JARI

Patna:-नीट परीक्षा में पास छात्र-छात्राओं के लिए खुशखबरी है क्योंकि लंबे समय से नामांकन लिए इंतजार का समय अब खत्म हो गया है.मेडिकल काउंसिलिंग कमेटी (MCC) ने नीट यूजी काउंसिलिंग 2021 का शेड्यूल जारी कर दिया है।इस शेड्यूल के तहत प्रथम काउंसिलिंग की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 19 से जनवरी से शुरू हो जाएगी और 24 जनवरी तक चलेगी।इस दौरान नीट परीक्षा पास छात्र मेडिकल और डेंटल कॉलेजों की च्वाइस भरेंगे।27 से 28 जनवरी को सीट अलॉटमेंट प्रोसेस होगा। चयनित छात्रों को 29 जनवरी को सीट अलॉटमेंट कर दिया जाएगा।

OBC और EWS कोटा के तहत आरक्षण

गौरतलब है कि नीट पीजी दाखिले में OBC और EWS आरक्षण को सुप्रीम कोर्ट में मामला चल रहा था और की सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने नामांकन को लेकर हरी झंडी दी थी.इस बी; नीट पास छात्र-छात्राओं के बीच उहोपोह की स्थिति बनी हुई थी.कोर्ट ने सरकार द्वारा ओबीसी को दिए जाने वाले 27 फीसदी और EWS कोटा के तहत दिए जा रहे 10 फीसदी आरक्षण को मंजूरी दे दी है.इसी कोटा के तहत नए सत्र में नामांकन लिया जा रहा है.

ऑनलाईन होगी पूरी प्रकिया

कोरोना संक्रमण के बीच एडमिशन के लिए शुरू की गई प्रकिया में नीट पास इन छात्र-छात्राओं के राहत भरी खबर है कि नामांकन के लिए इन्हें कहीं जाना नहीं पड़ेगा क्योंकि मेडिकल काउंसलिंग कमिटि के वेबसाइट पर ही सारी प्रकिया पूरी की जा सकेगी और कॉलेज की फीस भी ऑनलाइन डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड एवं इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से भुगतान कर सकेगें.

सीट अलाउटमेंट के बाद छात्रों को 30 जनवरी से 4 फरवरी तक आवंटित कॉलेज में अपने दस्तावेजों एवं फीस के साथ रिपोर्टिंग कर दाखिला ले सकतें हैं.इस प्रकिया के तहत एमबीबीएस, बीडीएस, बीएससी नर्सिंग, नीट के 15 प्रतिशत ऑल इंडिया कोटा, डीम्ड व सेंट्रल यूनिवर्सिटी की 100 प्रतिशत सीटों, ईएसआई, एएफएमएस की सीटों के लिए काउंसिलिंग होगी।

सीट खाली रहने पर दूसरा और तीसरा मौका

वहीं इस नामांकन के बाद बचे शेष सीटों के लिए सेकेंड राउंड के तहत नामांकन 20 से 26 फरवरी तक नामांकन होगा और इसके लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 9-14 फरवरी तक चलेगी। इस दौरान छात्रों को फिर से च्वाइस देनी होगी। 14 फरवरी को च्वाइस लॉकिंग, 17 से 18 फरवरी तक सीट अलॉटमेंट प्रक्रिया चलेगी। चयनित छात्रों को 19 फरवरी को सीट अलॉटमेंट लेटर जारी कर दिया जाएगा। छात्रों को 20 से 26 फरवरी के मध्य आवंटित कॉलेज में दस्तावेजों एवं फीस के साथ रिपोर्टिंग करनी होगी।

वहीं तीसरे चरण में स्पॉट राउंड के तहत 21 से 26 मार्च तक नामांकन हो सकेगा.इसकी काउंसिलिंग प्रक्रिया 28 फरवरी से शुरू होगी और 19 मार्च तक चलेगी। मॉपअप के लिए दो से सात मार्च तक रजिस्ट्रेशन करवाना हेगा। च्वाइस व लॉकिंग तीन से सात मार्च तक कर सकते हैं। वेरिफिकेशन इंटर्नल स्तर पर आठ से नौ मार्च तक, सीट आवंटन की प्रक्रिया 10 से 11 मार्च तक व रिजल्ट 12 मार्च को जारी होगा। इसमें शामिल छात्रों को आवंटित संस्थानों में 13 से 19 तक दाखिला लेना होगा।