news-details

IndvsSA: चहल-कुलदीप की फिरकी में फंसा द. अफ्रीका, भारत 9 विकेट से जीता

भारत ने सेंचुरियन के मैदान में दक्षिण अफ्रीका को हराकर बड़ी जीत दर्ज की है। सीरीज में भारत की यह लगातार दूसरी जीत है वहीं दक्षिण अफ्रीका की लगातार दूसरी हार। टॉस जीतकर भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पहले गेंदबाजी का फैसला किया था। पहले बल्लेबाजी करने आई दक्षिण अफ्रीका की पूरी टीम 32.2 ओवर में 118 रन बनाकर अॉल आउट हो गई। भारत के लिए यजुवेंद्र चहल ने पांच विकेट, कुलदीप यादव ने तीन और भुवी और बुमराह ने एक-एक विकेट झटके। 119 रन के लक्ष्य का पीछा करने आई भारतीय टीम ने  20.3 ओवर में 177 गेंद रहते ही जीत हासिल कर ली। भारत को रोहित शर्मा के रूप में सिर्फ एक विकेट का नुकसान हुआ। वनडे में अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए चहल को मैन अॉफ द मैच मिला।  

धवन और कोहली ने आसानी से हासिल किया लक्ष्य

पारी के शुरुआत में ही रोहित रन बनाकर आउट हुए। रोहित का विकेट गिरने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली और सलामी बल्लेबाज शिखर धवन भारतीय पारी को आगे लेकर गए। धवन ने 56 गेंदों में 9 चौकों की मदद से नाबाद 51 रन बनाए। वहीं विराट कोहली ने 50 गेंदों में एक छक्का और चार चौके जड़कर 46 रनों की नाबाद पारी खेली।

नहीं चला रोहित का बल्ला

दूसरी पारी में भारतीय टीम ने रोहित शर्मा के रूप में एक मात्र विकेट खोया। रोहित ने एक बार अपने बल्ले से निराश किया। उन्होंने रबाडा की गेंद पर मोर्ने मोर्कल को कैच थमा दिया। रोहित 15 रन बनाकर पवेलियन लौटे। 

कुलदीप-चहल की जोड़ी के आगे ऐसे धराशायी हुई द. अफ्रीका 

अमला 23 रन बनाकर भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर धौनी को कैच थमा बैठे। अमला के आउट होत ही डी कॉक ने भी अपना विकेट गंवा दिया। 20 रन बनाकर डी कॉक बड़ा शॉट लगाने की कोशिश में पांड्या को कैच थमा बैठे। डीकॉक का विकेट चहल ने झटका। इसके बाद कुलदीप ने एक ही ओवर में दक्षिण अफ्रीका के दो विकेट गिरा दिए। कुलदीप यादव की गेंद पर द. अफ्रीका के कप्तान मार्करम भुवनेश्वर को कैच थमा कर पवेलियन लौट गए। कप्तान मार्करम के बाद पिच पर आए डेविड मिलर भी कुलदीप की गेंद का शिकार हो गए। बिना खाता खोले मिलर ने रहाणे को कैच थमा दिया। मिलर का विकेट गिरने के बाद जोंडो और ड्यूमिनी ने मोर्चा संभाला।

इसके बाद खाया जोंडो भी 25 रन बनाकर चहल की गेंद पर चलते बने।  डुमिनी 25 रन बनाकर चहल की गेंद का शिकार हुए। वे एलबीडब्ल्यू आउट हुए।  इसके अगले ओवर में कुलदीप यादव ने रबाडा को एलबीडव्ल्यू आउट कर भारत को सातवीं सफलता दिलाई। इसके अगले ही ओवर में मोर्ने मोर्कल भी एक रन बनाकर चहल की गेंद पर चलते बने। चहल ने मॉर्कल को एलबीडव्ल्यू आउट किया। कुछ ही देर बाद इमरान ताहिर को बुमराह ने बोल्ड कर भारत को नौवीं सफलता दिला दी। ताहिर अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे। 32वें ओवर की दूसरी गेंद पर दक्षिण अफ्रीका का मॉरिस के रूप में अंतिम विकेट झटका। दक्षिण अफ्रीका की पूरी टीम मात्र 118 रन ही बना सकी। भारत की तरफ से चहल ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए पांच विकेट झटके। वहीं, कुलदीप ने तीन और एक-एक विकेट भुवनेश्वर और बुमराह ने झटके। 

लाइव स्कोरकार्ड देखने के लिए यहां क्लिक करें।

दक्षिण अफ्रीका को खली एबी डिविलियर्स और डुप्लेसिस की कमी

 इस मैच के लिए भारत ने पहले मैच में जीत दर्ज करने वाली टीम में कोई बदलाव नहीं किया था। जबकि दक्षिण अफ्रीका ने टीम में दो बदलाव किये थे। चोटिल कप्तान फाफ डुप्लेसिस की जगह पर खाया जोंडो को अपना पहला वनडे खेलने का मौका मिला। आलराउंडर एंडिल फेलुकवायो की जगह बायें हाथ के कलाईयों के स्पिनर तबरेज शम्सी को टीम का हिस्सा बनाया गया। सेंचुरियन के मैच में दक्षिण अफ्रीका को एबी डिविलियर्स की कमी खल रही थी। जो कि चोट के कारण टीम से बाहर हैं। वहीं एेन वक्त पर डुप्लेसिस का बाहर होना दक्षिण अफ्रीका की टीम के लिए बड़ा नुकसान साबित हुआ

You can share this post!

Leave Comments

madhuranjan kumar:   This Demo Message
madhuranjan kumar:    This Is Demo Message
Chandu.lal.marandi:   


You have characters left.