•  गरीबों के लिए खाद्यान्न का पैसा अब सीधे उनके खाते में जायेगा, CM की घोषणा             •  पाकिस्तान से लौटी गीता पर सोखा किस्कू ने फिर किया दावा             •  धनबाद में ट्रिपल मर्डर, महिला और दो बच्चों के मिले शव             •  बाबूलाल मरांडी, प्रदीप यादव समेत 54 नेताओं की गिरफ्तारी का आदेश             •  CM नीतीश ने शहीद जवान बीके यादव के परिजनों को 11लाख रुपये देने की घोषणा की             •  बिहार में 31 अक्टूबर तक मतदाता सूची में जोड़ा जायेगा नाम             •  जेल से भागने की फिराक में थे माओवादी, यूं पकड़ी गई चालाकी             •  देश की गरीबी दूर कर रही प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, गरीबों को मिला साहूकारों से छुटकारा             •  बिहार के 38वें राज्यपाल बने सत्यपाल मलिक, शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए सीएम             •  सिमुलतला आवासीय विद्यालय के लिए प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट जारी             •  विश्व धर्म सम्मेलन में नीतीश ने कहा- यहां से दहेज प्रथा के खिलाफ जाएगा मैसेज             •  नहीं सुधरा पाक, लगातार बढ़ा रहा तनाव             •  काबुल में मस्जिद के बाहर आत्मघाती हमला, 4 लोगों की मौत             •  प्रद्युमन की हत्या के बाद रेयान स्कूल में एक और बच्चे के साथ बेरहमी से पीटाई, पहुंचा अस्पताल !             •  मैं नौकरी चाहता तो आप इस जगह ना होते: जेटली पर यशवंत सिन्हा का पलटवार             •  बतौर रक्षा मंत्री पहली बार J&K पहुंचीं सीतारमण, बॉर्डर पर पोस्ट देखने गईं             •  मुंबई के रेलवे स्टेशन पर भगदड़ से 22 की मौत, ब्रिज ढहने की उड़ी थी अफवाह             •  जयंत सिन्हा ने कहा, नई इकोनॉमी ज्यादा ट्रांसपेरेंट और इनोवेटिव होगी। हर शख्स को अपनी जिंदगी बेहतर बनाने का मौका मिलेगा             •  यशवंत सिन्हा अपने पहले के रुख पर कायम हैं। गुरुवार को उन्होंने फिर मोदी सरकार की उसके फैसलों को लेकर आलोचना की।             •  सिनसिनाटी ओपन से बाहर हुए सानिया और बोपन्ना, भारत की चुनौती खत्म
 बाबूलाल मरांडी, प्रदीप यादव समेत 54 नेताओं की गिरफ्तारी का आदेश  
Last Updated
04/10/2017  07:54:23:PM  IST
 
News Tag
बाबूलाल मरांडी, प्रदीप यादव समेत 54 नेताओं की गिरफ्तारी का आदेश
 
 
Quick Share
 Share on Facebook    Tweet This

रांची। सीएनटी एसपीटी बिल के विरोध में 23 नवंबर को विधानसभा घेरने जा रहे नेताओं को पुलिस द्वारा रोके जाने पर हुए बवाल मामले में सिटी एसपी अमन कुमार ने सुपरविजन जारी कर दिया है। इसमे पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी, पूर्व मंत्री रामचंद्र केशरी, बंधु तिर्की, पूर्व सांसद  भुवनेश्वर मेहता, जदयू के  प्रदेश अध्यक्ष जलेश्वर महतो और विधायक प्रदीप यादव सहित 54 नेताओं की गिरफ्तारी का आदेश दिया गया है।

यह आदेश जगन्नाथपुर थाना में दर्ज प्राथमिकी के आधार पर दिया गया है। प्राथमिकी की जांच में सभी पर लगे आरोप सही पाए गए। सभी के खिलाफ जगन्नाथपुर थाना में 23 नवंबर, 2016 को उमेश चंद्र दास तत्कालीन मजिस्ट्रेट की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज की गई थी। प्राथमिकी में शामिल आरोपियों पर सरकारी काम में बाधा पहुंचाने, पुलिस पदाधिकारी और जवानों के साथ धक्का-मुक्की करने, सरकार और प्रशासन के खिलाफ नारा लगाने सहित अन्य आरोप थे। सभी सीएनटी-एसपीटी एक्ट में संशोधन प्रस्ताव के विरोध में  विधानसभा का घेराव करने जा रहे थे। सिटी एसपी ने गिरफ्तारी का आदेश हटिया डीएसपी विकास कुमार पांडेय के सुपरविजन रिपोर्ट के आधार पर  केस के आइओ दारोगा महेश कुमार को दिया है। गिरफ्तारी नहीं होने पर पुलिस कुर्की की कार्रवाई कर सकती है।  सिटी एसपी ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि विधायक प्रदीप यादव विधानसभा की ओर से आकर भीड़ में घुस गए और भीड़ को उकसाने का प्रयास किया। इस  कारण लोग आक्रोशित होकर अनियंत्रित हो गए। उग्र भीड़ को नियंत्रित करने के लिए वाटर कैनन से पानी की बौछार की गयी थी। भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया, जिसमें कई जवानों और पदाधिकारियों को चोट लगी। स्थिति के अनियंत्रित होने पर अश्रु गैस का गोले छोड़े गए थे। आइओ को सिटी एसपी ने यह भी निर्देश दिया है कि घटना की वीडियो रिकॉर्डिंग की गई तो उसका अवलोकन कर अग्रेतर कार्रवाई करें। सभी अभियुक्तों का नाम और पता का सत्यापन किया जाए।23 नवंबर को प्राथमिकी के नामजद समेत सैंकड़ो कार्यकर्ता विधि-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न करने की नियत से विधानसभा की ओर जा रहे थे। सभी अरगोड़ा पुल से डिबडीह की ओर जा रहे थे। इसी बीच, अरगोड़ा चौक पर मजिस्ट्रेट और पुलिस पदाधिकारियों ने समझाने का प्रयास किया, लेकिन  नहीं माने। सेटेलाइट चौक के पास लगी बैरिकेडिग तोड़कर पुलिस के साथ धक्का-मुक्की की और सरकार व प्रशासन विरोधी नारा लगाते हुए वे आगे बढ़ने लगे। इसी बीच, विधायक प्रदीप यादव भी पहुंचे गए, वह विधानसभा की अंदर की बातों को बढ़ा-चढ़ा कर जुलूस में शामिल लोगों को बता कर उकसाने लगे। उग्र भीड़ पुलिस पर पथराव करने लगी। इसके बाद भीड़ को नियंत्रित करने के लिए अश्रु गैस के गोले दागे गए, तब जाकर भीड़ तितर-बितर हुई।पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी, पूर्व मंत्री रामचंद्र केशरी, बंधु तिर्की, पूर्व सांसद  भुवनेश्वर मेहता, विधायक प्रदीप यादव, लक्ष्मण  स्वर्णकार,  रमेश राही, खालिद खलील, संतोष  कुमार,  योगेंद्र प्रताप सिंह, आदित्य मोनू, सीताराम जायसवाल, कृष्ण वर्मा,  रणजीत सिंह, इमरान अंसारी, मुस्तकीम खान, शिव कुमार यादव, तिलेश्वर राम,  संजय पांडेय, छोटू खान, अभिनव कुमार, सतीश सिंह, राजेंद्र चौधरी, सुधीर  कुमार, कृष्णा गुप्ता, मोहन ठाकुर, रवींद्र सिंह, प्रभात भुइयां, जदयू के  प्रदेश अध्यक्ष जलेश्वर महतो, प्रदेश उपाध्यक्ष हाजी हासिव खान, रामस्वरूप  यादव, पिंटू सिंह, प्रकाश नोनिया, महमूद आलम, धनंजय कुमार, फिरोज अहमद,  मुन्ना सिंह, विकास सिंह, स्मृतिकांत सिंह, जावेद मस्तान, राजू सिंह,   सुशांतो मुखर्जी, अजय सिंह, हदीश अंसारी, गौतम सागर राणा, एसआइ कादरी, मो  हातिम अंसारी, तारकेश्वर यादव, मोहसिन खान, पूनम झा, मुमताज कुरैशी, शोभा  कुरैशी, आबिद सहित अन्य अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कर आरोपी बनाया  गया था। 

  COMMENTS
 
 
new scity
REGIONAL NEWS
KASHISH NEWS OTHER SERVICES BE CONECTED   LINKS
© 2017 Kasish News. All rights reserved. Developed By : SAM Softech