Manor-One
  ब्रेकिंग न्यूज़  
  • थम गया पहले चरण का चुनाव प्रचार, 25 नवंबर को है चुनाव , कई दिग्गजों की साख दांव पर

    रांची। काफी तामझाम के बाद झारखंड विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए प्रचार प्रसार का भोंपू अब से थोड़ी देर पहले थम गया। पहले चरण में कुल 13 सीटों पर घमासान है। अब 25 नवंबर को कुल तैंतीस लाख इकसठ हजार नौ सौ अड़तीस मतदाता 199 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। आपको बता दें कि इन सीटों पर वोटिंग सुबह 7 बजे से 3 बजे तक होगी और मतगणना 23 दिसंबर को होगी।

     झारखंड में चुनाव कराना प्रशासन के लिए हमेशा चुनौती भरा रहा है। नक्सलवाद यहां की सबसे बड़ी समस्या है। जिससे निपटने के लिए प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतज़ाम किए हैं। ताकि किसी तरह की अनहोनी से बचा जा सके। वोटिंग के दौरान 46 हज़ार जवानों की तैनाती की गयी है और CRPF की तीन सौ कंपनियां बुलाई गयी हैं। ज़िला पुलिस के करीब 94 हज़ार जवान भी ड्यूटी पर मुस्तैद रहेंगे। जैप की 72 कंपनिया, झारखंड जगुआर के 9000 जवान तैनात होंगे। वहीं होमगार्ड के 6 हज़ार जवानों को भी लगाया गया है। इसके साथ ही हवाई निगरानी के लिए तीन MI हेलीकॉप्टरों को भी लगाया गया है।

    झारखंड में पहले चरण के लिए 13 सीटों पर चुनाव हो रहा है जिनमें- चतरा,गुमला, बिशुनपुर, लोहरदगा, मणिका, लोतेहार, पांकी , डालटनगंज, विश्रामपुर, छतरपुर, हुसैनाबाद, गढ़वा और भवनाथपुर सीट है।

    आइए जान लेते हैं कि 13 सीटों पर मुख्य मुकाबला किनके बीच है:

    पांकी

    कांग्रेस से विदेश सिंह , अमित तिवारी भाजपा से और लाल सूरज सिंह जेएमएम

    गुमला

    भाजपा से शिवशंकर उरांव, जेएमएम से भूषण तिर्की और कांग्रेस से विनोद किस्सपोट्टा हैं मैदान में

    भवनाथपुर

    NSM से भानू प्रताप शाही, भाजपा से अनंत प्रताप देव और जेवीएम से रामचंद्र केसरी लड़ रहे हैं चुनाव

    डालटनगंज

    कांग्रेस से केएन त्रिपाठी, भाजपा से मनोज सिंह और जेवीएम से आलोक चौरसिया हैं आमने – सामने

    लोहरदगा

    कांग्रेस से सुखदेव भगत, आजसू से कमल किशोर भगत और जेएमएम से सुखदेव उरांव के बीच है टक्कर

    गढ़वा

    आरजेडी से गिरिनाथ सिंह, जेवीएम से वीरेंद्र साव और जेएमएम से मिथिलेश सिंह के बीच है कांटे की टक्कर

    चतरा

    भाजपा से जयप्रकाश भोक्ता, जेवीएम से सत्यानंद भोक्ता और आरजेडी प्रत्याशी जनार्दन पासवान के बीच है टक्कर

    विशुनपुर

    बीजेपी से समीर उरांव, जेएमएम से चमरा लिंडा और कांग्रेस के बॉबी भगत हैं मैदान में

    हुसैनाबाद

    बीजेपी से कामेश्वर कुशवाहा, एनसीपी के कमलेश सिंह और जेएमएम से दशरथ सिंह के बीच है कड़ा मुकाबला

     लातेहार

    भाजपा के बृजमोहन राम, जेवीएम के प्रकाश राम और आरजेडी से विजय राम हैं मैदान में

    मनिका

    कांग्रेस के मुनेश्वर उरांव, जेएमएम से शिल्पा कुमारी और भाजपा से हरेकृष्ण सिंह लड़ रहे हैं चुनाव

    विश्रामपुर

    भाजपा से रामचंद्र चंद्रवंशी, कांग्रेस के अजय कुमार दूबे और जेएमएम से अनवर हुसैन अंसारी हैं मैदान में

    छतरपुर

    भाजपा से राधाकृष्ण किशोर, जेडीयू की सुधा चौधरी और आरजेडी के मनोज भुइयां के बीच है कांटे की टक्कर

  • एक्सप्रेस वे के शिलान्यास के दौरान अपनी ही सरकार पर जमकर बरसे मुलायम

     लखनऊ। धूमधाम से अपना जन्मदिन मनाने के बाद सपा सुप्रीमो मुलायाम सिंह यादव ने रविवार को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे का शिलान्यास किया। लेकिन इस मौके पर मुलायम के तेवर तल्ख दिखे और वे अपनी ही सपा सरकार पर भड़क गए और उन्होंने प्रदेश सरकार पर गुस्साते हुए कहा कि प्रदेश में विकास कार्य की गति काफी धीमी है। मुलायम सिंह ने साफ तौर पर कहा कि सरकार ने योजनाएं तो बहुत शुरू कीं वो अच्छी बात है, लेकिन वे योजनाएं पूरी होती नहीं दिख रही हैं।इसके साथ ही मुलायम ने अखिलेंश सरकार के मंत्रियों और अफसरों तो फटकार लगाते हुए पूछ कि लोगों के बीच अब इस बात को लेकर चर्चा हो रही है अब उसका जवाब कौन देगा। योजनायें शुरू होती हैं तो अच्छी बात है लेकिन उसे पूरा करने की जिम्मेवारी कौन लेगा। इस अवसर पर प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव भी मौजूद थे।

    लेकिन इन सबके बीच सबसे अच्छी बात ये है कि आगरा- लखनऊ एक्सप्रेस वे जिसका शिलान्यास आज मुलायम सिंह ने किया है। उसके बनने से जल्द ही लखनऊ से आगरा पहुंचना लोगों के लिए बेहद आसान होनेवाला है। इसके बारे में ये भी बताया जा रहा है कि एक्सप्रेस वे को बनाने में करीब 15 हजार करोड़ की लागत आएगी और इसको पूरा करने का लक्ष्य दो साल रखा गया है। इस एक्सप्रेस वे से लखनऊ से आगरा जाने में सिर्फ चार से साढ़े चार घंटे का समय लगेगा।

    यहां आपको बता दें कि एक्सप्रेस वे जिले की सीमा में 31 गांवों से होकर गुजरेगा। इसके लिए प्रभावित काश्तकारों से बैनामे की कार्यवाही अंतिम चरण में चल रही है। एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य रविवार से पांच जिलों में एक साथ शुरू होगा। एक्सप्रेस वे के निर्माण का कार्य गांव कठफोरी से शुरू हो रहा है।




  • अब भारत से वार्ता के लिए पाक को ही लेना होगा पहला स्टेप - राजनाथ सिंह

    नई दिल्ली। गृहमंत्री राजनाथ सिंह शनिवार को एक मीडिया हाउस के कार्यक्रम को संबोधित करने पहुंचे थे और उन्होने वहां देश की रक्षा से संबंधित कई बातों का जिक्र किया । यही नहीं उसी मंच से राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को जमकर कोसा और साथ ही उसको दो टूक जवाब दिया ।

    राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत में आतंकवाद का जो साया है वो पूरी तरह से पाकिस्तान की देन है। इसके साथ ही उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि अब भारत के साथ आगे वार्ता करने के लिए पाकिस्तान को ही पहल करनी होगी और पहला स्टेप उसी को लेना होगा। ।

    हमेशा से ये बात उठती रही है कि पाकिस्तान ने ही बड़े –बड़े आतंकियों और साथ ही दाउद को भी पनाह दे रखी है। राजनाथ सिंह ने भी इसी बात को दोहराते हुए कहा है कि वर्ल्ड के कुख्यात डॉन दाउद इब्राहिम को पाक ने ही अपने यहां पर पनाह दे रखी है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ISI का भी जिक्र किया और कहा कि ISI के आश्रय में रहकर दाउद ने पाकिस्तान और अफगानिस्तान में सुरक्षित ठिकाने बना रखे हैं और वहीं छिपा बैठा है। इसके साथ ही उन्होंने अपनी बात से भरोसा दिलाया कि हम जल्दी ही दाउद को सौंपने के लिए पाकिस्तान पर दबाव बनाने जा रहे हैं। इसमें आपसभी थोड़ा इंतजार करिए, अच्छा समाचार मिलेगा। राजनाथ ने आगे बताया कि, ‘जब नवाज शरीफ भारत आए थे तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे दाऊद को सौंपने का आग्रह किया था। राजनाथ ने कहा कि भारत में आतंकवाद फैलाने के पीछे पाक की खुफिया एजेंसी ISI  का ही हाथ है। पाक पर गरजते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि मुंबई हमले के दोषियों को सजा दिलाने में पाक को कोई रूचि नहीं है।

    राजनाथ सिंह ने पाक को चेतावनी देते हुए साफतौर पर चेताया और कहा कि द्विपक्षीय वार्ता पर अगर पाक ने पहले कश्मीर के अलगाववादियों से बात की तो मामला बिगड़ जाएगा। आगे बोलते हुए उन्होंने कहा कि भारत तो पाक से अच्छे रिश्ते चाहता है और अगर द्विपक्षीय वार्ता पर नवाज शरीफ का रूख स्पष्ट है तो हमारा भी दृष्टिकोण बिल्कुल साफ है। यहां आपको बता दें कि नवाज शरीफ ने कुछ दिनों पहले एक बयान जारी कर कहा था कि कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान भारत की सरकार से पहले कश्मीर के अलगाववादियों से बात करना चाहेगी।    

    आए दिन संघ से जोड़कर मोदी और केंद्र सरकार को विपक्षी निशाना बनाते हैं तो इसपर भी राजनाथ सिंह ने खुलकर बोला कि  ‘मैं संघ का कार्यकर्ता हूं। य़ही नहीं खुद प्रधानमंत्री मोदी भी बचपन से आरएसएस के स्वयंसेवक हैं। जब तक हम जिंदा हैं, हमें आरएसएस  से कोई जुदा नहीं कर सकता। अगर कोई संघ से अलग होता तो प्रभाव की बात होती।’ 


  • गिरिडीह में नक्सलियों ने चिपकाए पोस्टर, लोगों को चुनाव बहिष्कार की दी धमकी

    गिरिडीह।  चुनाव के पहले नक्सलियों ने एक बार फिर पोस्टरबाजी की है और पोस्टर के जरिए लोगों को चुनाव का बहिष्कार करने की बात कही है। ऐसा नहीं करने पर लोगों को सजा भुगतने की भी बात पोस्टर में लिखी है।

    दरअसल झारखंड के गिरिडीह जिले के देवरी थाना क्षेत्र के चतरो बाजार में नक्सलियों ने शनिवार रात कई जगहों पर पोस्टर चिपकाया है। चिपकाए गए पोस्टर में नक्सलियों ने इलाके के लोगों से चुनाव का बहिष्कार करने को कहा है। इसके साथ ही में पोस्टर में नक्सलियों के द्वारा ये भी लिखा गया है कि अगर लोगों ने वोट डाले तो उन्हें भुगतना होगा। उन लोगों को जन अदालत में सजा दिया जाएगा। फिलहाल पुलिस ने पोस्टरों को फाड़ दिया है।

    लेकिन चुनाव का पहला चरण भी नहीं गुजरा है , यहां तक की पहले चरण के लिए चुनाव प्रचार भी नहीं थमा है और ऐसे में नक्सलियों का लोगों को यूं धमकी भरा पोस्टर से डराना प्रशासनिक दोवों को खोखला साबित कर रहा है। चूंकि लोगों में इस पोस्टर के बाद से काफी दहशत है और अब इलाके के लोग चुनाव से कतरा रहे हैं। बहुत मुमकिन तो ये भी है कि लोग वोट डालने अपने घरों से जल्दी ना निकलें और अगर गए भी मन में एक कसक रहेगी और डर का साया हर पल साथ चलेगा कि कहीं कोई तीसरी आंख उसपर नजर तो नहीं बनाए हुए है।   


  • दोनों पड़ोसी देशों की हरकतों पर रखनी होगी कड़ी निगरानी - डोभाल

    नई दिल्ली। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल शनिवार को एक मीडिया हाउस के कार्यक्रम में शामिल और वहां उन्होंने कहा कि भारत के सैन्य शक्ति को मजबूत रहने और किसा भी परिस्थिती के लिए तैयार रहने को कहा। दरअसल इस कार्यक्रम में भारत को दोनों पड़ोसी देशों पाकिस्तान और चीन की बढ़ती नजदीकियों से आगाह रहने को कहा है। इसके साथ ही डोभाल ने दोनों देशों के मंसूबों को भांपते हुए उससे निपटने के लिए ऐसी शक्ति और संतुलन क्षमता विकसित करने पर जोर दिया, जिससे युद्ध ही एकमात्र ही विकल्प ना रह जाए। इतना कहने के बाद डोभाल ने सेना से दोनों ही मोर्चों पर तैयार रहने को भी कहा।

    डोभाल ने अपने वक्तव्य में एक बहुत ही महत्वपूर्ण बात की ओर इशारा करते हुए कहा कि, "दोनों ही देश हमारे पड़ोसी हैं और दोनों ही परमाणु शक्ति संपन्न हैं।“इससे आगे बोलते हुए डोभाल ने कहा कि दोनों ही देश हमारे देश के प्रति दुश्मनी की भावना रखते हैं और दोनों में काफी रणनीतिक दोस्ती भी है। इसलिए हमारे देश को हर वक्त चौकस रहना पड़ेगा और किसी भी स्थिती के लिए तैयार रहना होगा।

    आगे बोलते हुए डोभाल ने कहा कि पाकिस्तान जैसे देश से कूटनीतिक स्तर पर निपटने की जरूरत है। अगर हमारे देश की विकास दर आठ-नौ फीसद हो जाए तो दुनिया का कोई भी देश हमारी ओर आंख उठाकर नहीं देख सकता। लेकिन इसके बावजूद सबसे महत्वपूर्ण ये है कि हमें अपनी सेना को शक्तिशाली करना होगा।

    इतना ही नहीं डोभाल ने कहा कि गुलाम कश्मीर में चीन और पाकिस्तान की साझा हरकतों खास नजर रखने की जरूरत है। उनका कहना था कि, "ऐसी खबरें भी आई हैं कि दोनों देश मिलकर गुलाम कश्मीर में सीमा के नजदीक सड़क का निर्माण कर रहे हैं। लेकिन हमें उनकी हरकतों पर कड़ी निगरानी रखनी होगी और उन दोनों देशों के नापाक इरादों का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए कारगर रणनीति बनानी होगी।"


 
LIVE NEWS
BIG NEWS
 
Sail city
..PICTURE GALLERY
 
 
व्यापार
बाजार ने छुआ उंचाई, सेंसेक्स 28,000 के पार

मुंबई। सेंसेक्स पहली बार 28000 के पार जाने में कामयाब हुआ है, तो निफ्टी ने 8363.65 का नया रिकॉर्ड ऊपरी स्तर बनाया है। लगातार सेंसेक्स और निफ्टी नए रिकॉर्ड बनाते जा रहे हैं। कंपनियों की तिमाही परिणान उच्छे रहने...

बॉलीवुड
पीके का नया गाना "चार कदम" लॉन्च, अनुष्का और सुशांत की रोमांस से भरा है गाना

नई दिल्ली। आमिर खान की  मोस्ट अवेटेड मूवी पीके को लेकर काफी ज्यादा चर्चा है। इस मूवी में आमिर के साथ अनुष्का और सुशांत सिंह राजपूत...

 
खेल जगत
PICTURE
आपकी राय
बकौल सचिन ट्वंटी-20 फार्मेट ने क्रिकेट को और रोमांचक बना दिया है. क्या आप सहमत हैं?
 
 
प्रादेशिक
विश्वजगत
 
KASHISH NEWS OTHER SERVICES BE CONECTED   LINKS
© 2014 Kasish News. All rights reserved. Developed By : SAM Softech