Manor-One
  ब्रेकिंग न्यूज़   रामदेव की तीन संस्थाओं के धन के चुनाव में दुरुपयोग के संबंध में जांच के निर्देश
  • प्रियंका के बयान पर जेटली की प्रतिक्रिया, मोदी पर बंद करें निजी हमले

    अमृतसर: अपने पति रॉबर्ट वाड्रा पर हो रहे हमलों को लेकर प्रियंका गांधी के आहत महसूस करने वाले बयान के एक दिन बाद भाजपा ने कहा कि वह (प्रियंका) चाहती हैं कि लोग निजी हमलों से परहेज करें, लेकिन कांग्रेस नरेंद्र मोदी को उनकी वैवाहिक स्थिति समेत विभिन्न मुददों पर निशाना बना रही है।

    इस पर सहमति जताते हुए कि निजी मामलो को नहीं उठाना चाहिए भाजपा नेता अरुण जेटली ने कहा, ईमानदारी का मामला सार्वजनिक मुद्दा है। वे निजी मसला नहीं है। वह वाड्रा के जमीन सौदों की ओर इशारा कर रहे थे।

    जेटली ने कहा कि वह खुश हैं कि प्रियंका ने वाड्रा पर बयान दिया और 'मुझे आशा है कि उनका परिवार और उनकी पार्टी उनकी ( प्रियंका ) सलाह का ध्यान रखेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में प्रियंका के मित्रों से उम्मीद है कि उन्हें यह अहसास होगा कि उन्होंने मोदी पर उनकी शादी की स्थिति और बिना सबूत स्नूपगेट पर जो हमले किए वह निजी हमले थे।

    अपनी चुप्पी तोड़ते हुए प्रियंका ने कहा था, आप जब टीवी देखते हैं तो क्या देखते हैं? कठोर शब्द, मेरे परिवार का अपमान। मेरे पति के बारे में बहुत-सी बातें कही गई हैं। मुझे दुख होता है। मैं आहत महसूस करती हूं... सच्चाई नहीं बताई जा रही है.. हर दिन मैं अपने बच्चों को बताती हूं कि सच्चाई की जीत होगी... मुझे दुख है कि इन चुनावों में किस तरह की राजनीति सामने आ रही है। उन्होंने हालांकि किसी का नाम नहीं लिया। उनका साफ इशारा भाजपा द्वारा वाड्रा पर किए जा रहे हमलो की ओर था। कुछ भाजपा नेताओं ने कहा कि अगर राजग सत्ता में आता है तो वाड्रा जेल में जाएंगे। उन्होंने कहा कि उनके पति का इस्तेमाल उनके परिवार पर राजनीतिक हमले करने के लिए किया जा रहा है।
     
    एजेंसी
  • एक शख्स को सत्ता सौंपना खतरनाक : प्रियंका गांधी का मोदी पर निशाना

    रायबरेली: कांग्रेस की स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर विपक्षी पार्टियों के दावों को खोखला बताते हुए कहा कि ये दल बेईमानी खत्म करने की तो बात करते हैं, लेकिन यह नहीं बताते कि वे ऐसा कैसे करेंगे। कांग्रेस ने सूचना का अधिकार कानून लागू करके बताया है कि वह भ्रष्टाचार को कैसे रोकेगी।

    प्रियंका ने अपनी मां कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की उम्मीदवारी वाले क्षेत्र रायबरेली के ऊंचाहार विधानसभा क्षेत्र के सिद्धौर में आयोजित नुक्कड़ सभा में कहा, विपक्षी दल भ्रष्टाचार हटाने की बात करते हैं, लेकिन उन्हें यह बताना चाहिए कि वे इस बुराई को कैसे हटाएंगे।

    विपक्षियों पर हमला करते हुए प्रियंका ने कहा कि कहा कि दूसरी तरफ प्रचार होता है कि सत्ता एक व्यक्ति को दे दो। आप बताइए कि पूरी सत्ता अगर एक आदमी लेकर बैठेगा, तो यह गलत होगा या सही। उन्होंने कहा, आज राजनीति में व्यक्तिगत हमले हो रहे हैं, लेकिन यह सियासत नहीं है। आज की राजनीति में जनता के दुख-दर्द और विकास की बात होनी चाहिए।

    प्रियंका ने कहा, आपके बीच लोग प्रचार करने आते हैं, आप उनसे पूछिए कि विकास के लिए वे क्या कर रहे हैं। उन्होंने आपके लिए क्या किया है। लोग आते हैं, भाषण देते हैं, लेकिन आपके लिए क्या करेंगे, यह नहीं बताते।

    प्रियंका ने कहा, यह देश का चुनाव है। यह एकता के लिए चुनाव है, सोच समझकर वोट करें। जब मतदान करने जाएं, तो सोचें कि आपको कैसी राजनीति चाहिए, फूट डालने वाली, सांप्रदायिकता फैलाने वाली, आपस में लड़ाने वाली या ऐसी राजनीति जो सबको साथ लेकर चलती है।

    उन्होंने कहा, इसमें कोई शक नहीं है कि आप सोनिया जी को वोट देंगे, क्योंकि उन्होंने आपके लिए विकास किया है। सोनिया जी पूरे देश में प्रचार कर रही हैं, इसलिए आपके बीच मुझे भेजा है।
     
    एजेंसी
  • सरकारी विज्ञापनों पर सर्वोच्च न्यायालय ने बनाई समिति

    नई दिल्ली: सर्वोच्च न्यायालय ने सरकार तथा इसके विभागों की ओर से स्पष्ट राजनीतिक संदेश वाले विज्ञापन जारी करने को नियंत्रित करने के लिए दिशा-निर्देश तय करने के उद्देश्य से बुधवार को एक तीन-सदस्यीय समिति का गठन किया।

    सर्वोच्च न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति पी. सतशिवम की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि ऐसे विज्ञापन डीएवीपी के मौजूदा दिशा-निर्देशों के तहत नहीं आते।

    बेंगलुरु नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के संस्थापक निदेशक एनआर माधवन मेनन, लोकसभा के पूर्व महासचिव टीके विश्वनाथन और वरिष्ठ वकील रंजीत कुमार समिति के सदस्य होंगे। न्यायालय ने कहा कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सचिव इस समिति के साथ समन्वय करेंगे और इसे सहयोग देंगे। समिति अपनी पहली रिपोर्ट अगले तीन महीने के भीतर न्यायालय में पेश करेगी।
     
    एजेंसी
  • गिरिराज सिंह के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी

    बोकारो: एक स्थानीय अदालत ने जिले में एक चुनावी सभा के दौरान भड़काउ भाषण देने के मामले में बिहार के पूर्व मंत्री एवं भाजपा नेता गिरिराज सिंह के खिलाफ आज गिरफ्तारी वारंट जारी किया।

    उप मंडलीय न्यायिक मजिस्ट्रेट अमित शेखर ने सिंह के खिलाफ वारंट जारी किए हैं। सिंह ने कथित रूप से यह बयान दिया था कि नरेंद्र मोदी के लिए मतदान नहीं करने वालों को पाकिस्तान में जगह ढूंढनी होगी। इस कथित बयान के कारण उनके खिलाफ वारंट जारी किया गया है।

    सिंह भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धाराओं 153 ए (वर्गों के बीच शत्रुता बढ़ाना), 295 ए (किसी वर्ग के धर्म या धार्मिक विश्वासों का दुर्भावनापूर्वक अपमान करना) और 298 (किसी व्यक्ति की धार्मिक भावनाओं को भड़काने के लिए कोई शब्द कहना, कोई आवाज करना या कोई संकेत करना या उसके सामने कोई वस्तु रखना) के तहत आरोपों का सामना कर रहे हैं।

    बोकारो पुलिस ने सिंह के खिलाफ 21 अप्रैल को प्राथमिकी दर्ज की दी। वह इस प्राथमिकी के अनुसार, लोक प्रतिनिधित्व कानून के तहत भी आरोपों का सामना कर रहे हैं। उनके खिलाफ 18 अप्रैल को जिले में एक चुनावी सभा के दौरान कथित भड़काउ भाषण देने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है।

    इसके अलावा उनके खिलाफ इन्हीं आरोपों के मामले में देवगढ जिला पुलिस ने भी एक और प्राथमिकी दर्ज की है।
  • थोड़ी सत्ता विरोधी लहर का सामना कर रहा संप्रग सरकार: राहुल

    नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलगवार को संप्रग सरकार के खिलाफ 'थोड़ी सत्ता विरोधी लहर' होने की बात स्वीकार की जिसने एक या दो गलतियां की हैं। उन्होंने वादा किया यदि 2014 लोकसभा चुनाव के बाद कांग्रेस सत्ता में आयी तो उनके नेतृत्व में एक 'परिवर्तन लाने वाली सरकार' का गठन होगा।

    गांधी ने एक टीवी चैनल के साथ एक साक्षात्कार में यह भी स्वीकार किया कि हो सकता है कि संप्रग सरकार ने एक या दो गलतियां की हों।

    उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद यदि सांसद उन्हें प्रधानमंत्री बनाना चाहेंगे तो वह इस पर '99 प्रतिशत नहीं बल्कि 103 प्रतिशत' सहमत होंगे और वादा किया कि उनके नेतृत्व में सरकार 'भारत में बदलाव' लाएगी।

    कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, 'वह व्यवस्था और ढांचे में बदलाव लाएगी। वह सरकार परंपरागत नहीं होगी। वह बदलाव लाने वाली सरकार होगी जो ढांचे में जबर्दस्त परिवर्तन लाएगी। वह जबर्दस्त प्रदर्शन करेगी।'

    उन्होंने इसके साथ ही इस बात पर भी जोर दिया कि वह 'राहुल गांधी की सरकार नहीं होगी। वह भारत के लोगों की सरकार होगी जिनकी आवाज सत्ता के गलियारों में गूंजेगी।'

    उन्होंने कहा, 'हम प्रत्येक क्षेत्र में जितना संभव होगा उतना अधिकार जनता को देंगे ताकि देश का नागरिक होने के नाते वे शक्ति स्वत: प्राप्त कर सकें। हमारा रूख यह होगा कि आप काम करिये और हम आपकी क्षमताओं पर विश्वास करें।'

    लोकसभा की लगभग आधी सीटों के लिए चुनाव पूरा होने और सर्वेक्षणों में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन की संभावना जताये जाने के बीच, गांधी ने स्वीकार किया, 'संप्रग ने एक या दो गलतियां की हैं।' उन्होंने यद्यपि यह भी जोड़ा कि उसने काफी काम भी किया है।

    राहुल गांधी ने गुजरात में नरेंद्र मोदी के शासन पर तीखा हमला बोला और कहा कि वहां पर कोई लोकायुक्त नहीं है और वहां छुपा हुआ भ्रष्टाचार है।

    उन्होंने कहा, 'अदालतें गुजरात से लोकायुक्त और आरटीआई लाने के लिए कह रही हैं।' उन्होंने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, 'हम देखते हैं कि वहां एक चौकीदार है जो यह कहता है कि मैं गुजरात का चौकीदार हूं लेकिन हम एक चौकीदार नहीं चाहते। हम प्रत्येक नागरिक को चौकीदार बनाना चाहते हैं।'

    संप्रग के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर पर उन्होंने कहा, 'दस वर्ष छोटी अवधि नहीं होती, यह लंबा समय है' और सत्ता विरोध लहर होना स्वाभाविक है और यह यहां है।

    गांधी ने कहा कि वह गुस्सा इसलिए होते हैं क्योंकि देश की विशाल क्षमता को बंद कर दिया गया है और उसे मुक्त नहीं होने दिया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि वह उस ढांचे को तोड़ना चाहते हैं जिसमें सत्ता एक हाथ में हो और वह चाहते हैं कि निर्णय प्रक्रिया में प्रत्येक व्यक्ति का विचार हो।

    उन्होंने दावा किया कि संप्रग सरकार ने राजग के विपरीत काफी काम किया है। उन्होंने कहा, 'हम मार्केटिंग में उतने अच्छे नहीं हैं।'
     
    एजेंसी
 
LIVE NEWS
BIG NEWS
 
Sail city
..PICTURE GALLERY
 
 
व्यापार
मुकेश अंबानी सबसे अमीर क्रिकेट टीम मालिक: वेल्थ
नई दिल्ली: देश के प्रमुख उद्योगपति मुकेश अंबानी आईपीएल क्रिकेट टीमों का स्वामित्व रखने वालों में सबसे अमीर हैं। वेल्थ एक्स ने यह अनुमान लगाया है। अंबानी की परिसंपत्तियां शुरू रूप से 21.2 अरब डॉलर आंकी...
बॉलीवुड
रानी और आदित्य की शादी से खुश हुए शाहरूख खान
मुंबई: बालीवुड के किंग खान शाहरूख खान, रानी मुखर्जी और आदित्य चोपड़ा की शादी पर बेहद खुश हुये है और उन्होंने इस जोड़ी को...
 
खेल जगत
PICTURE
आपकी राय
बकौल सचिन ट्वंटी-20 फार्मेट ने क्रिकेट को और रोमांचक बना दिया है. क्या आप सहमत हैं?
 
 
प्रादेशिक
विश्वजगत
 
KASHISH NEWS OTHER SERVICES BE CONECTED   LINKS
© 2014 Kasish News. All rights reserved. Developed By : SAM Softech