Manor-One
  ब्रेकिंग न्यूज़  
  • मौसम ने बदली करवट, देश के कई इलाकों में झमाझम बारिश, बिहार- झारखंड में भी बेमौसम बरसात से लोग बेहाल

    पटना / रांची ।  उत्तर भारत में लगातार 36 घंटो से बारिश हो रही है । वहीं इस बेमौसम बारिश पर मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि अगले 24 घंटे तक फिलहाल बारिश से राहत नहीं मिलेगी। इस बारिश की वजह से चली गयी ठंड वापस लौट आयी है।   

    दूसरी ओर पटना और रांची के आसपास के कई इलाकों में बारिश हो रही है। रविवार से ही वातावरण में नमी की बढ़ोत्तरी महसूस की जा रही है। झमाझम बारिश के साथ ही ठंडी हवाओं के झोंके ने लोगों को घरों में दुबकने को मजबूर कर दिया है। मौसम के इस बदले मिजाज की वजह से ऑफिस और खासकर स्कूल जाने वाले बच्चों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वैसे डॉक्टर्स का कहना है कि इस बेमौसम बारिश की वजह से स्वाइन फ्लू का खतरा और भी बढ़ जाता है, क्योंकि वातावरण में बढ़ी हुई नमी स्वाइन फ्लू के लिए अनुकूल होता है। इस बारिश का असर आम मंझरों पर भी पड़ा है, जिससे फसल को नुकसान होने की संभावना है । वहीं तिलहन, गेहूं, आलू और दलहन समेत लगभग सभी फसलों को व्यापक नुकसान होने की आशंका है।

    दूसरी ओर जम्मू-कश्मीर के उच्च पर्वतीय इलाकों में भारी हिमपात से जहां ठंड बढ़ गई, वहीं निचले क्षेत्रों में भारी बारिश से जलभराव की स्थिति पैदा हो गई है। इस बीच, श्रीनगर प्रशासन ने पहाड़ी जिलों में रहने वाले लोगों को अगले चौबीस घंटों तक बर्फीले तूफान की आशंका के चलते पूरी तरह सावधान रहने को कहा है। हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी बर्फबारी की वजह से लोग बेहाल हैं। वहीं ठंड भी फिर से बढ़ गयी है।  



  • शराब नहीं देने पर दो लोगों जलाया जिंदा, दोनों की हालत गंभीर

    मधुबनी। मधुबनी में रुह कंपा देने वारदात को अंजाम दिया गया है। जिले के चूड़ी बाजार इलाके में दो लोगों को जिंदा जलाने की कोशिश की गई है। इस हादसे में पीड़ित दोनों शख्स शराब कारोबारी के कर्मचारी हैं। जिनको पेट्रोल डालकर जलाने का प्रयास किया गया है। घटना के बारे में बताया जा रहा है कि दोनों कर्मचारी अपने कमरे में रात के वक्त सो रहे थे। उसी दौरान अपराधियों ने उनके कमरे को बाहर से बंद कर दिया और पेट्रोल डालकर आग के हवाले कर दिया।

    वहीं इस पूरी घटना के बारे में पीड़ित कर्मचारी का कहना है कि अक्सर दो लोग मुफ्त में उनके पास शराब मांगने आया करते थे। चूंकि पीड़ित कर्मचारी शराब व्यवसायी के यहां काम करते थे, इसलिए आरोपी दोनों शख्स उनके पास अक्सर शराब मांगने आया करते थे। इससे आगे बोलते हुए पीड़ित ने बताया कि जब कभी वे उन्हें शराब नहीं देते थे तो वे दोनों उन्हें आग के हवाले कर देने की धमकी दिया करते थे। इस हादसे के शिकार दोनों ही कर्मचारियों की हालत हगंभीर बनी हुई है और दोनों का इलाज मधुबनी के सदर अस्पताल में चल रहा है और हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना के सभी आरोपी फिलहाल फरार हैं। वहीं पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

  • अमेरिका में हिंदुओंं के मंदिर में तोड़फोड़, दीवार पर "FEAR" लिखकर उपद्रवियों ने दी धमकी

    वाशिंगटन। अमेरिका के वाशिंगटन राज्य में एक बार फिर हिंदुओं के मंदिर को निशाना बनाया गया है।एक महीने के अंदर ये दूसरी घटना है। ये घटना गुरूवार देर रात की है।केंट स्थित हिंदू मंदिर की खिड़कियों में तोड़फोड़ के अलावा उपद्रवियों ने दीवाल पर पेंट से 'FEAR' लिख कर डराने की कोशिश की है। इसके अलावा मंदिर की कई खिड़कियों के शीशे टूटे पाये गए हैं। केंट के मंदिर पर हमले की जानकारी रात के वक्त वहां पूजा करने आये लोगों ने दी। उसी के बाद एक लोकल समाचार चैनल कोमो-टीवी के हवाले से इस खबर को प्रसारित किया गया । प्रसारित खबर के मुताबिक मंदिर में नियमित आने वाले लोगों का कहना है कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि मंदिर पर हमला धर्मिक कारणों से हुआ है या फिर कुछ स्थानीय किशोरों ने बदमाशी में ऐसा किया है। एफबीआई और केंट पुलिस को मंदिर पर हमले की जानकारी दे दी गई है। 15 फरवरी को वाशिंगटन राज्य के ही सिएटल मैट्रोपॉलिटन एरिया में हिंदूओं के मंदिर पर हमला हुआ था। यहां आपको बता दें कि इससे पहले फरवरी महीने में बथेल इलाके में स्थित एक हिंदु मंदिर पर हमला हुआ था और स्वास्तिक का निशान बना कर ‘गेट आउट’लिख दिया गया था।

    वाशिंगटन में अमेरिकन-इस्लामिक रिलेशन काउंसिल के डायरेक्टर अर्सलान बुखारी ने कहा, ''इस प्रकार से अल्पसंख्यक समुदाय से आने वाले लोगों के धर्मस्थान को निशाना बना कर उपद्रवी लोगों को भड़काने की कोशिश कर सकते हैं। '' बता दें कि केंट मंदिर में कोई सुरक्षा कैमरा नहीं लगा है जिसके कारण यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा है कि किसने और कब यह हमला किया। पुलिस दोनों मामलों को एक साथ जोड़कर देख रही है।


  • बिहार में तेजी से पैर पसार रहा स्वाइन फ्लू, संविदा पर बहाल डॉक्टर्स की हड़ताल से मरीज हुए बेहाल

    पटना। बिहार में स्वाइन फ्लू महामारी बनती जा रही है। लेकिन अब तक इसे रोकने के लिए कोई खास इंतजाम नहीं दिख रहे हैं। नतीजा ये निकला है कि 65 से ज्यादा मरीजों में स्वाइन फ्लू का शुरुआती लक्ष्ण दिख रहा है। दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र सहित कई राज्यों के बाद अब स्वाइन फ्लू ने बिहार में भी अपना पैर पसारना शुरू कर दिया है। चूंकि इस वायरस के कारण हुई मौतों की संख्या 800 से ज्यादा हो चुकी है और लोग दहशत में हैं। मामूली सर्दी जुकाम होने पर भी हर किसी को ये डर सता रहा है कि कहीं वो भी तो इस बीमारी की गिरफ्त में नहीं आ गए। डरने का बड़ा कारण होली का त्योहार भी है। इस त्योहार में बाहर रहने वाले लोग भी बड़ी संख्या में अपने घर वापसी कर रहे हैं लिहाजा इस वायरस के फैलने की आशंका और भी ज्यादा हो गई है। हालांकि अब जब बिहार में भी डॉक्टर दंपति सहित तीन लोगों में स्वाइल फ्लू का वायरस पाया गया है। प्रशासन हरकत में आया है और हवाई अड्डा, रेलवे स्टेशन सहित, बस स्टैंड सहित तमाम जगहों पर यात्रियों की जांच की व्यवस्था करायी गई है।

    एक तरफ जहां बिहार में स्वाइन फ्लू के मरीजों की सख्या में लगातार इजाफा हो रहा है वहीं संविदा पर बहाल तकरीबन 2000 अऩुबंधित डॉक्टर्स आज से हड़ताल पर चले गये हैं। दरअसल, ये डॉक्टर्स पिछले कई महीनों से सरकार से स्थायी नियुक्ति की मांग कर रहे हैं। लेकिन सरकार इस मामले में टालमटोल रवैया अपनाती रही है। ऐसे में सरकार और अनुबंधित डॉक्टर्स की लड़ाई के बीच अगर कोई पीस रहा है तो वो है बेबस मरीज। वहीं PMCH प्रशासन की ओर से दावे पर दावे किए जा रहे हैं लेकिन बिहार के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल का जब हमने मुआयना किया तो वहां की व्यवस्था नाकाफी दिखी। हालांकि पीएमसीएच प्रबंधन का दावा है कि अस्पताल में स्वाइन फ्लू से निपटने की पूरी तैयारी है।

    सबसे ज्यादा खतरा

    एच 1 एन 1 से सबसे ज्यादा खतरा गर्भवती महिलाओं को, एक साल से कम उम्र के बच्चों को, 65 से अधिक उम्र के लोगों को, एचआईवी से पीड़ित व्यक्ति को, हार्ट के रोगी को, बहुत लंबे समय से किसी रोग से पीड़ित व्यक्ति को जिसका इम्यून सिस्टम कमजोर हो गया हो, हॉस्पिटल में काम करने वाले डॉक्टर, नर्स और अन्य कर्मचारियों को है।

    जान लेते हैं साधारण फ्लू और स्वाइन फ्लू में अंतर

    साधारण फ्लू में सबसे पहले कमर और पीठ में दर्द होता है, फिर हल्का बुखार, जुकाम और खांसी होती है। नाक भी बहती है और छीकें भी आती है। वहीं, स्वाइन फ्लू पीड़ित को पहले तेज बुखार फिर खांसी, सिर और बदन में दर्द और गला बैठने की परेशानी आती है। रोगी को बेचैनी होती है और डायरिया जैसे लक्षण के साथ उल्टी-दस्त होने लगते हैं। मरीज को सांस लेने में तकलीफ होती है, छोटे बच्चे खाना छोड़ देते हैं और बड़ों को भूख लगना बंद हो जाती है।

  • घाटी में पहली बार खिला कमल, मुफ्ती ने ली CM पद की शपथ , भाजपा के निर्मल सिंह बने डिप्टी CM

    जम्मू। पिछले कई दिनों की जद्दोजहद के बाद आखिरकार घाटी में कमल खिल ही गया। राज्य में पहली बार पीजीपी- बीजेपी की गठबंधन वाली सरकार का गठन हो गया। राज्य के 16 वें मुख्यमंत्री के रूप में पीडीपी प्रमुख मुफ्ती मोहम्मद सईद को राज्यपाल एन.एन.वोहरा ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। वहीं बीजेपी के निर्मल सिंह को राज्यपाल को राज्य के उप-मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलायी। निर्मल सिंह जम्मू-कश्मीर में मंत्री बनने वाले बीजेपी के पहले विधायक हैं। ये समारोह जम्मू यूनिवर्सिटी के को जनरल जोरावर सिंह ऑडिटोरियम में आयोजित की गई थी।

    इस समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लालकृष्ण आडवाणी, अमित शाह, मुरली मनोहर जोशी और पीडीपी की महबूबा मुफ्ती शामिल हुईं। पीएम मोदी ने मुफ्ती को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद बधाई भी दी।CM मुफ्ती के साथ 25 और मंत्रियों ने भी इस शपथ ग्रहण समारोह में शपथ ली। लेकिन कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस दोनों ही पार्टियां इस शपथ ग्रहण समारोह से दूर ही रहीं। बीजेपी के लाल सिंह ने जम्मू-कश्मीर सरकार में बतौर मंत्री डोगरी भाषा में शपथ ली । जबकि पूर्व अलगाववादी नेता और पीपुल्स के प्रमुख सज्जाद गनी लोन ने भी इस गठबंधन की सरकार में मंत्री पद की शपथ ली। यहां आपको बता दें कि सज्जाद लोन इससे पहले घाटी में अलगाववादी नेता हुआ करते थे। लेकिन फिर इन्होंने अलगाववाद को त्याग अपनी पार्टी बनायी और विधानसभा चुनाव के पहले पीएम मोदी से मुलाकात करने के बाद काफी सुर्खियों में आए थे।

    यहां आपको बता दें कि मुफ्ती दूसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री बने हैं। पीडीपी-बीजेपी गठबंधन की सरकार का नेतृत्व मुफ्ती करेंगे और छह साल के कार्यकाल को पूरा करेंगे। इससे पहले इन्होंने 2002से 2005 तकपीडीपी-कांग्रेस गठबंधन सरकार का नेतृत्व किया था और तीन साल तक मुख्यमंत्री रहे थे।





 
LIVE NEWS
BIG NEWS
 
Sail city
..PICTURE GALLERY
 
 
व्यापार
बजट के पहले बाजार में रही तेजी, बजट आते ही सेंसेक्स में आयी गिरावट

 

 

 मुंबई। केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा लोकसभा में वित्त वर्ष 2015-16का आम बजटपेश किया और उसके बाद दोपहर तक शेयर बाजारों में गिरावट देखी गई। जेटली के...

बॉलीवुड
सोनम कपूर को हुआ स्वाइन फ्लू, एयरलिफ्ट से लाया गया मुंबई

मुंबई। अनिल कपूर की बेटी और बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनम कपूरभी स्वाइन फ्लू से पीड़ित हो गई हैं।  सोनम की तबियत खराब होने की वजह से...

 
खेल जगत
PICTURE
आपकी राय
बकौल सचिन ट्वंटी-20 फार्मेट ने क्रिकेट को और रोमांचक बना दिया है. क्या आप सहमत हैं?
 
 
प्रादेशिक
विश्वजगत
 
अमेरिका में हिंदुओंं के मंदिर में तोड़फोड़, दीवार पर "FEAR" लिखकर उपद्रवियों ने दी धमकी
 
KASHISH NEWS OTHER SERVICES BE CONECTED   LINKS
© 2015 Kasish News. All rights reserved. Developed By : SAM Softech