ब्रेकिंग न्यूज़  
  • ट्विंकल ने शुरू कर दी है टॉयलेट एक प्रेम कथा-2 की तैयारी, देखें PHOTO

    अभी तक तो अक्षय और भूमि पेडनेकर की टॉयलेट एक प्रेम कथा का पहला पार्ट ही सुर्खियां बटोर रहा है. मगर अब लगता है कि जल्द ही इसके दूसरे पार्ट की शूटिंग भी शुरू होने वाली है. हो भी क्यों ना आखिर अक्षय की पत्नी ट्विंकल को भी तो ये फिल्म काफी पसंद आई है. फिल्म रिलीज होने के बाद से ही ट्विंकल लगातार फिल्म से जुड़े अपडेट और इसकी सक्सेस के बारे में ट्वीट कर रही हैं. पति कामयाब हो, तो पत्नी का खुश होना बनता भी है. फिर इस बार तो अक्षय ने सिल्वर स्क्रीन पर शाहरुख और सलमान को पछाड़कर बाजी मारी है. ऐसे में ट्विंकल कोई मौका छोड़ना नहीं चाहतीं.हाल ही में उन्होंने इंस्टाग्राम और ट्विटर पर जो फोटो शेयर की है, वो तो और भी खास है. इस फोटो के जरिये ट्विंकल ने ये बता दिया है कि वह जल्द ही इसका पार्ट-2 लाने की तैयारी में हैं. इस तस्वीर में उन्होंने एक आदमी की फोटो शेयर की है, जो मुंबई के एक बीच पर खुले में शौच करता नजर आ रहा है. उन्होंने इस तस्वीर का कैप्शन लिखा है- ये टॉयलेट एक प्रेमकथा पार्ट-2 का पहला सीन है. पहले हफ्ते में फिल्म ने 96 करोड़ की कमाई की है. जल्द ही यह सौ करोड़ का आकंड़ा भी छू लेगी.

     

    हैरान करने वाली बात ये है कि अक्षय कुमार की इस फिल्म से पहले कई बड़े स्टार्स की बड़े बजट की फिल्में बॉक्स ऑफिस पर कुछ कमाल दिखाने या दर्शकों को लुभाने में नाकाम साबित हुई हैं. जबकी टॉयलेट एक प्रेम कथा जैसी छोटे बजट की फिल्म जो एक छोटे से गांव में रहने वाले एक आम इंसान की जिंदगी पर बेस्ड है दर्शकों को खूब भा रही है. इससे अब फिल्ममेकर्स और बड़े स्टार्स को एक सीख तो ले ही लेनी चाहिए कि फिल्म में अब दर्शक स्टार्स से ज्यादा अच्छे कंटेट की उम्मीद करते हैं.

  • भारत-चीन के बीच बढ़ते तनाव का अंजाम हो सकता है 'युद्ध'

    वाशिंगटन- डोकलाम में भारत और चीन की सेनाओं के आमने-सामने डटे होने के मामले को अमेरिका खतरनाक मान रहा है। वहां की एक संसदीय रिपोर्ट में कहा गया है कि यह गतिरोध दोनों देशों के बीच युद्ध भी करा सकता है। उस दौरान अमेरिका और भारत का सामरिक सहयोग चीन के साथ अमेरिकी रिश्तों के लिए मुश्किल पैदा कर सकता है। कांग्रेस की शोध सेवा की ओर से दो पन्ने की यह संक्षिप्त रिपोर्ट 'डोका-ला में चीन सीमा पर तनाव' शीर्षक से यह रिपोर्ट पेश की गई है।

    इस रिपोर्ट में दोनों देशों के सैनिकों की स्थिति के बारे में जानकारी है। उल्लेखनीय है कि सिक्किम सेक्टर के गतिरोध वाले डोकलाम इलाके को भारतीय क्षेत्र में डोका-ला कहा जाता है। जिस त्रिकोणीय इलाके में गतिरोध बना हुआ है, वह डोकलाम कहलाता है और वह भूटान के अधिकार वाला क्षेत्र है। इसी क्षेत्र पर कब्जा करके चीन वहां पर सड़क बनाना चाहता था जिसे गत 16 जून को भारतीय सेना ने बलपूर्वक रुकवा दिया। यह इलाका उत्तर-पूर्वी प्रदेशों को शेष भारत से जोड़ने वाले संकरे गलियारे के बिल्कुल नजदीक है। इसके चलते भारत को चीन के कब्जा करके सड़क बनाने वाले कदम से अपनी सुरक्षा के लिए खतरा नजर आया।

    अमेरिकी रिपोर्ट में कहा गया है कि इस विवाद का बातचीत से हल न होना दोनों देशों को टकराव की तरफ ले जा सकता है। यह रिपोर्ट भविष्य की कार्रवाई के लिए ट्रंप प्रशासन को कांग्रेस की ओर से सलाह और सहयोग देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है। रिपोर्ट तैयार करने वाली शोध संस्था अमेरिकी कांग्रेस के लिए स्वतंत्र रूप से कार्य करती है। इसका अमेरिकी सरकार से कोई मतलब नहीं होता है। यह देश हित पर कांग्रेस को रिपोर्ट करती है। उसकी रिपोर्ट का मसौदा सरकार की नीति से अलग हो सकता है।

    रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि डोकलाम विवाद भारत और चीन के बीच प्रतिद्वंद्विता के नए अध्याय की शुरुआत कर सकता है। यह प्रतिद्वंद्विता केवल इसी इलाके तक सीमित नहीं रह सकती है बल्कि यह 2,167 मील लंबे विवादास्पद सीमा क्षेत्र में भी फैल सकती है। इसका असर दक्षिण एशिया ही नहीं हिंद महासागर क्षेत्र में दिखाई दे सकता है। ताजा विवाद का असर दोनों देशों के व्यापार समझौतों पर भी पड़ सकता है, जिनकी छाया अन्य पड़ोसी देशों पर भी दिखाई देगी। वैसे इस प्रतिद्वंद्विता की शुरुआत भारत को परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) में पहुंचने से रोकने और आतंकी सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित न होने देने के चीन के कदमों से शुरू हो चुकी है।

  • मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसे में 6 की मौत, 50 घायल, कोच काटकर निकाले जा रहे हैं फंसे लोग

    पुरी से हरिद्वार जा रही उत्कल एक्सप्रेस शनिवार की शाम करीब पौने छह बजे मुजफ्फरनगर से खतौली रेलवे स्टेशन के पास पटरी से उतर गई. ट्रेन के करीब दर्जन भर डिब्बे पटरी से उतरकर अगल-बगल के घरों और एक स्कूल में घुस गए. बता दें कि ट्रेन पुरी से हरिद्वार जा रही थी. हादसा शनिवार की शाम 5 बजकर 46 मिनट पर हुआ है. ट्रेन का नंबर 18477 है.इसके अलावा रेल के कई कोच एक दूसरे में घुस गए. ट्रेन में सफर कर रहे करीब आधा दर्जन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और 50 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. पटरी से उतरे डिब्बों में यात्री फंसे हुए हैं. जिन्हें निकालने के लिए डिब्बा काटने खातिर क्रेन बुलाई गई है.घटना के बाद मेरठ, अंबाला, सहारनपुर ट्रैक को बंद कर दिया गया है. चारों तरफ मची चीख पुकार

    हादसे के बाद चारों तरफ चीख पुकार मच गयी. सूचना मिलते ही रेलवे प्रशासन में हड़कम्प मच गया. सूचना मिलने पर स्थानीय पुलिस प्रशासन की टीम राहत एवं बचाव कार्य में जुट गयी. प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि ट्रेन जैसे ही खतौली रेलवे स्टेशन के पार निकली तभी तीसरे नंबर की बोगी पटरी से उतर गई और इसके बाद करीब आठ डिब्बे पटरी से उतर गए.

    घायलों को स्थानीय चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है. फिलहाल बचाव एवं राहत कार्य जारी है. हादसे के बाद ट्रेन यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ है. दर्जनों गाड़ियां बीच रास्तों में रोक दी गयी हैं.

    खतौली के लिए रवाना हुई NDRF टीमयूपी के खतौली के पास रेल हादसे की सूचना मिलते ही 44 राहत दल सदस्यों और 2 खोजी कुत्तों के साथ एनडीआरएफ की पहली टीम मुजफ्फरनगर के लिए रवाना हो गई है. गाजियाबाद से एनडीआरएफ की 3 टीमें भेजी गई हैं.

    पीएसी की 9 कंपनियों को घटनास्थल के लिए भेजा

    पीएसी के आईजी लखनऊ ने 9 कंपनियों को घटनास्थल पर पहुंचने के लिए कहा है. ताकी राहत और बचाव कार्यों को तेजी से पूरा किया जा सके.

  • Momentumcontinues रघुवर दास बोले : 5 साल में महाराष्ट्र और गुजरात से आगे होगा झारखंड

    जमशेदपुर- मुख्यमंत्री रघुवर दास एवं केंद्रीय कपड़ा और सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने एक साथ 74 कंपनियों का शिलान्यास किया. जमशेदपुर के गोपाल मैदान में आयोजित मोमेंटम झारखंड के दूसरे चरण के ऐतिहासिक आयोजन के दौरान मुख्यमंत्री ने एलान किया कि वह झारखंड को समृद्ध प्रदेश बना कर रहेंगे. उन्होंने कहा कि आनेवाले 5 साल में महाराष्ट्र और गुजरात से भी आगे होगा झारखंड. वहीं, केंद्रीय मंत्री और कार्यक्रम की मुख्य अतिथि स्मृति ईरानी ने व्यापारियों को सहूलियत देने के लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास की जम कर तारीफ की. उन्होंने कहा कि महज 4 महीने में रांची में टेक्सटाइल इंडस्ट्री की यूनिट की शुरुअात बताता है कि राज्य की सरकार और यहां के लोग प्रदेश के विकास के प्रति कितने सजग हैं.

    राज्य और राज्य के बाहर के उद्योगपतियों के समूह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री @dasraghubar ने कहा कि उनकी सरकार ऐसी नीतियां बनायेगी, जो राज्य को विकास के पथ पर ले जायेगी. ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के क्षेत्र में सरकार ऐसे काम करेगी, ताकि व्यापारी झारखंड में आयें और जो उद्योगपति यहां पहले से हैं, वे अपने उद्योग का विस्तार यहीं करें. इस दिशा में एक कदम बढ़ाते हुए मंच से कई ऑनलाइन पोर्टल की शुरुअात की गयी. इसमें बिजली कनेक्शन से लेकर अग्निशमन विभाग तक के पोर्टल शामिल थे. बताया गया कि अब इससे जुड़े तमाम लाइसेंस और जरूरी क्लियरेंस ऑनलाइन ही मिल जाया करेंगे.

  • पटना में बोले 'बागी' शरद- JDU मेरी पार्टी, महागठबंधन जारी है

    पटना - बिहार में शनिवार का दिन सियासी गलियारों में गहमा-गहमी का दिन रहा। एक ओर जहां सीएम आवास में जदयू की राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई, वहीं दूसरी ओर बागी गुट ने शरद यादव के नेतृत्‍व में श्रीकृष्‍ण मेमारियल हॉल में समानांतर सभा की गई।

    'बागियों' के बीच शरद यादव ने अपने विरोधियों पर जमकर निशाना साधा। कहा कि JDU मेरी पार्टी है। महागठबंधन जारी है। यही नहीं, मंच पर लगे बैनर में भी लिखा था ' महागठबंधन जारी है'।

    पटना में अपने गुट के नेताओं के साथ बैठक शरद यादव ने बिना नाम लिये विरोधियों पर निशाना साधे। शरद ने कहा कि जिसने जेडीयू को बनाया कुछ लोग उसे ही कह रहे हैं कि ये उसका घर नहीं है। लोग मेरी मंशा से लेकर घर तक पर सवाल खड़े कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं आज आया तो था जेडीयू की कार्यकारिणी में भाग लेने लेकिन वो कहते हैं कि ये पार्टी आपकी है ही नहीं।

    शरद ने मुलायम सिंह यादव का जिक्र करते हुए कहा कि पहले नेता जी और अब नीतीश ने जनता परिवार को एक नहीं होने दिया। मुझे किसी पद की चिंता और लालच नहीं है क्योंकि मैंने कई लोगों को विधायक और मंत्री बनाया है। मैं केवल तमाम समाजवादियों को एक मंच पर देखना चाहता हूं। इस बैठक में पूर्व में एनडीए सरकार का चेहरा रहे कुछ पूर्व मंत्री भी पहुंचे हैं।

    महागठबंधन का साथ छोड़ नीतीश कुमार के भाजपा में शामिल होने के बाद से ही शरद नाराज चल रहे हैं। उनके साथ पूर्व मंत्री रमई राम और राज्‍यसभा सांसद अली अनवर ने भी नीतीश कुमार के इस कदम की खुलकर आलोचला की। नीतीश के समर्थकों द्वारा इन्‍हें बागी तक करार दे दिया गया। 

    जदयू में शुरू हुए कलह के बाद दोनों गुट खुद को असली और दूसरे को नकली साबित करने में जुट गये हैं। शरद गुट की नजर अब पार्टी के सिंबल यानी तीर पर है। नीतीश को उनके घर में टक्कर देने के बाद शरद गुट पार्टी के नाम और चुनाव चिह्न पर दावा करने के लिए जल्द ही चुनाव आयोग का भी रुख करेगा। पटना की सड़कें पर भी असली और नकली जेडीयू को लेकर पोस्‍टर वार शुरू हो चुकी है।

    वहीं, दूसरी ओर नीतीश कुमार ने शरद यादव को खुलेआम चुनौति देते हुए कहा कि पार्टी तोड़कर दिखायें। पार्टी को तोड़ने के लिए दो-तिहाई बहुमत की जरूरत होती है। सभी विधायक, विधान पार्षद और सांसद हमारे साथ हैं। क्‍या वे लालू के सहारे जदयू को तोड़ने का ख्‍वाब देख्‍ा रहे हैं।

    नीतीश कुमार ने शरद यादव को नसीहत देते हुए कहा कि जब वे लोकसभा चुनाव हार गये थे तो हमने उन्‍हें भाजपा के वोट पर राज्‍यसभा भेजा। जब उन्‍हें पहली बार राज्‍यसभा भेजने का प्रस्‍ताव रखा गया था तो जार्ज फर्नांडिस जी ने ऐतराज जताया था। लेकिन मेरे कहने के बाद वे मान गये थे। हमने शरद यादव को दो बार राज्‍यसभा भेजा और आज वे मेरे खिलाफ ही आवाज उठा रहे हैं।

    इससे पहले जदयू नेता केसी त्‍यागी ने कहा कि शरद जी भ्रष्ट्राचार और परिवारवाद के जनक के साथ चले गए हैं। अब वे लालू के साथ खड़े होकर शरद अपनी गरिमा खत्म करेंगे। उन्‍होंने सर्जिकल स्ट्राइक पर भी सवाल उठाये थे। काफी समय से वे पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल थे, इसलिए उन्‍हें राज्यसभा में नेता पद से हटाना जरूरी हो गया था। यदि वे 27 अगस्‍त को लालू यादव के साथ मंच पर आते हैं तो पार्टी उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी।

 
LIVE NEWS
 
new scity
KASHISH NEWS PROGRAMMES
kashish News Programmes...
 
 
 
व्यापार
SBI चीफ अरुंधति भट्टाचार्य की सैलरी जानते हैं आप? उनका वेतन सुन चौंक जाएंगे

नई दिल्ली: दुनिया के 50 सबसे बड़े बैंकों में शामिल और देश...

बॉलीवुड
ट्विंकल ने शुरू कर दी है टॉयलेट एक प्रेम कथा-2 की तैयारी, देखें PHOTO

अभी तक तो अक्षय और भूमि पेडनेकर की टॉयलेट एक प्रेम कथा का पहला पार्ट ही सुर्खियां...

 
खेल जगत
..PICTURE GALLERY
आपकी राय
क्या निखिल प्रियदर्शी को बचा रही है पुलिस ?
 
 
प्रादेशिक
विश्वजगत
 
Facebook Like
जरुर देखें
KASHISH NEWS OTHER SERVICES BE CONECTED   LINKS
© 2017 Kasish News. All rights reserved. Developed By : SAM Softech